Spread the love

नई दिल्ली। भारत में तेजी से उभरती हुई तब ओला डिजिटल भुगतान बाजार के क्षेत्र में अपनी पैठ बनाने की तैयारी में जुटी है। हाल ही में राइड-हेलिंग कंपनी ने भारतीय स्टेट बैंक (एसबीआई) काड्रर्स के साथ मिलकर ‘ओला मनी एसबीआई क्रेडिट कार्ड’ उतारने की घोषणा की है। इसके भुगतान की प्रक्रिया में प्रौद्योगिकी कंपनी वीजा अपनी तकनीकी सुविधा मुहैया कराएगा। ओला ने कहा है कि वह लाखों ओला उपयोगकर्ताओं को सरल ऐप्लिकेशन प्रक्रिया, शून्य सदस्यता शुल्क और निर्बाध एवं सुविधाजनक भुगतान की पेशकश के जरिये ग्राहक अनुभव को बेहतर करेगी। सॉफ्टबैंक के निवेश वाली इस कंपनी ने 2022 तक 1 करोड़ ओला मनी एसबीआई क्रेडिट कार्ड जारी करने का लक्ष्य रखा है। भारत में ओला के सीईओ भाविश अग्रवाल ने बताया कि अगले कुछ वर्षों में इस सुविधा से लाखों भारतीयों जोड़ा जाएगा। डिजिटल भुगतान के क्षेत्र में काफी अवसर दिख रहा है। हमारे प्लेटफॉर्म पर 15 करोड़ से अधिक डिजिटल-फस्र्ट ग्राहक हैं। हम उपभोक्ताओं के साथ मिलकर भारत की डिजिटल अर्थव्यवस्था को आगे बढ़ाने का काम करेंगे।
इस तरह से किया जाएगा इस्तेमाल
ओला के उपयोगकर्ता ओला ऐप के जरिये इस क्रेडिट कार्ड के लिए आवेदन करने, उसे देखने और उसका प्रबंधन कर सकेंगे। कार्ड उपयोगकर्ताओं को कैश-बैक मिलेगा जो तत्काल उनके ओला मनी खाते में जमा हो जाएगी और उसका इस्तेमाल ओला राइड्स, हवाई टिकट अथवा होटल बुकिंग में किया जा सकता है। एसबीआई काड्रर्स के प्रबंध निदेशक एवं मुख्य कार्याधिकारी हरदयाल प्रसाद ने कहा कि इस तरह के क्रेडिट कार्ड जारी करने के लिए ओला के साथ साझेदारी से हम काफी उत्साहित हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here