previous arrow
next arrow
Slider
Spread the love
Home National कोटा में 29 कोरोना संक्रमित आए सामने, अब तक 299

कोटा में 29 कोरोना संक्रमित आए सामने, अब तक 299

Spread the love

 कोटा। रेड जोन में होने के बाद भी प्रशासन द्वारा नागरिकों को लॉकडाउन में छूट देना कोटा की जनता के लिए खतरनाक साबित हो रहा है। शुक्रवार सुबह 9 बजे जारी हुई चिकित्सा विभाग की रिपोर्ट में कोटा में 29 नए कोरोना पॉजिटिव सामने आए हैं। इसके साथ ही शहर में कोरोना का आंकड़ा 299 पर पहुुंच चुका है। इसमें एक मीडिया कर्मी का बेटा भी शामिल है। 

रिपोर्ट के अनुसार कोटा जिले में मिले 29 मामलों में चंद्रघंटा से 17 वर्षीय पुरुष, 31 वर्षीय पुरुष, 42 वर्ष पुरुष और 58 वर्षीय पुरुष, छावनी इलाके में 45 वर्षीय पुरुष और 56 वर्षीय पुरुष, कैथूनीपोल थाना क्षेत्र के पाटन पोल इलाके में 22 वर्षीय पुरुष और 24 वर्षीय पुरुष, सब्जी मंडी टिंबर मार्केट में 35 साल की महिला कोरोना पॉजिटिव पाई गई। विज्ञान नगर थाना क्षेत्र के अमन कॉलोनी में 14 मरीज मिले जिनमें 4, 9 और 10 वर्ष के छोटे बच्चे भी शामिल है। यहां 16 वर्षीय पुरुष, 18 वर्षीय पुरुष, 40 वर्षीय पुरुष, 54 वर्षीय पुरुष, 58 वर्षीय पुरुष और 64 वर्षीय बुजुर्ग पुरुष तथा 4 वर्षीय बालिका, 9 वर्षीय बालिका, 10 वर्षीय बालिका, 22 वर्षीय महिला, 26 वर्षीय महिला, 29 वर्षीय महिला, 40 वर्षीय महिला और एक 60 वर्षीय बुजुर्ग महिला शामिल है। इसी प्रकार हरिओम नगर में 85 वर्षीय बुजुर्ग, मौखापाड़ा में 48 वर्षीय पुरुष, कैथूनीपोल में 18 वर्षीय पुरुष, साजिद देहड़ा में 60 वर्षीय महिला, रेलवे कॉलोनी में 30 वर्ष पुरुष, प्रेम नगर में 28 वर्षीय पुरुष की रिपोर्ट कोरोना पॉजिटिव पाई गई। अब तक मिले कुल 299 मामलों में 10 लोगो की कोरोना वायरस से मौत हो चुकी है। वहीं न्यू मेडिकल कॉलेज के कोरोना वार्ड में भर्ती 210 मरीजों की रिपोर्ट उपचार के बाद नेगेटिव आ चुकी है, जिसमें से 156 मरीजों को स्वस्थ होने के बाद अस्पताल से डिस्चार्ज किया जा चुका है। 
 रेड जोन में होने के बावजूद छूट देना पढ़ रहा है भारी: प्रदेश में कोटा जिला रेड जोन में होने के बावजूद जिला प्रशासन द्वारा लॉक डाउन में छूट दिए जाना आम नागरिकों के लिए खतरनाक साबित हो रहा है। शहर में लगातार अलग-अलग इलाकों में प्रतिदिन दो से पांच कोरोना पॉजिटिव मामले सामने आ रहे हैं। इसके बावजूद जिला प्रशासन व्यापारियों के दबाव में आकर महा कर्फ्यू क्षेत्र से लगातार कर्फ्यू हटाता जा रहा है। इन क्षेत्रों में थोक व्यापारियों की दुकान पिछले एक माह से बंद होने के कारण इन व्यापारियों ने मंत्री शांति धारीवाल को ज्ञापन के माध्यम से कर्फ्यू हटाकर लॉकडाउन जारी रख मास्क की अनिवार्यता ओर सोशल डिस्टेंस के साथ आम नागरिकों को दैनिक कार्य के लिए छूट की मांग की थी। सरकार द्वारा दबाव बनने पर जिला कलेक्टर ओम कसेरा ने धीरे धीरे शहर में कर्फ्यू ग्रस्त इलाको से कर्फ्यू हटाना शुरू कर दिया। शहर में आम दिनों की तरह लोगों को आजादी मिलने से सड़कों शहर में आम दिनों की तरह लोगों को आजादी मिलने से सड़कों और बाजारों में चहल-पहल नजर आने लगी है। बाजारों में किसी प्रकार की शारीरिक दूरी या सरकारी आदेशो की पालना नही हो रही और ना ही पुलिस प्रशासन लोगों को सरकारी आदेशो की पालना कराने में सफल हो पा रहा है। 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

नीतिराज मोटर्स में ऑल न्यू सफारी की ग्रैंड लॉन्चिंग

मोतिहारी। भारत के प्रमुख ऑटोमोटिव ब्रांड टाटा मोटर्स ने अपनी प्रीमियम फ्‍लैगशिप एसयूवी ऑल न्‍यू सफारी को मोतिहारी के अधिकृत विक्रेता नीतिराज मोटर्स प्राइवेट...

बाल दुर्व्यापार के खिलाफ पूर्णियां में पहली बार हुई जनसंवाद

पूर्णिया। नोबेल शांति पुरस्कार विजेता कैलाश सत्यार्थी द्वारा स्थापित संस्था कैलाश सत्यार्थी चिल्ड्रेन फाउंडेशन के तत्वावधान में आज बाल श्रम उन्मूलन के अंतराष्ट्रीय वर्ष...

विधायक राघवेन्द्र प्रताप सिंह ने श्री राम मंदिर निर्माण के लिए एक लाख रुपये का दिया अंशदान

आरा। भारतीय जनता पार्टी के बड़हरा विधायक और बिहार सरकार के पूर्व मंत्री राघवेन्द्र प्रताप सिंह ने श्री राम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र को अयोध्या...

सीपीआई ने प्रधानमंत्री का पूतला फूँका

दरभंगा। पेट्रोल, डीजल, रसोई गैस आदि के दामों में बेतहाशा मूल्य वृद्धि, किराना सामानों के बढ़ रहे दाम, तीनों कृषि विरोधी काला कानून के...

Recent Comments