previous arrow
next arrow
Slider
Spread the love
Home State जेएनसीयू: शिक्षा की गुणवत्ता के लिए नैक कसौटी पर खरा उतरें शिक्षण...

जेएनसीयू: शिक्षा की गुणवत्ता के लिए नैक कसौटी पर खरा उतरें शिक्षण संस्थान

Spread the love
बलिया। जननायक चंद्रशेखर विश्वविद्यालय के आईक्यूएसी द्वारा ‘उच्च शिक्षण संस्थानों का नैक द्वारा मूल्यांकन : महत्त्व और व्यावहारिक आयाम ‘ विषय पर एकदिवसीय राष्ट्रीय वेबिनार सह कार्यशाला का आयोजन शनिवार को किया गया। इस वेबिनार का मुख्य उद्देश्य विश्वविद्यालय से जुड़े सभी महाविद्यालयों को नैक द्वारा मूल्यांकन के लिए तैयार करना था।
कार्यक्रम के आरंभ में वसंत कन्या महाविद्यालय की एसोसिएट प्रोफेसर डॉ. इंदु उपाध्याय ने विषय के सैद्धान्तिक पक्ष पर वक्तव्य दिया। उन्होंने पॉवर पॉइंट प्रजेंटेशन के माध्यम से नैक द्वारा जारी नए दिशा-निर्देशों और उससे जुड़े पक्षों पर प्रकाश डाला। साथ ही उन्होंने कहा कि आज का युग वैश्विक प्रतिस्पर्धा का युग है। इसमें शिक्षा की गुणवत्ता को बनाये रखने के लिए ज़रूरी है कि शिक्षण संस्थान नैक की कसौटी पर खरे उतरें। इस लिहाज से नैक की अहमियत समझी जा सकती है।
कार्यक्रम के मुख्य वक्ता महात्मा गांधी काशी विद्यापीठ के पूर्व कुलपति प्रो. पी नाग ने विषय के व्यवहारिक पक्ष पर विस्तार से बात की। नैक टीम के अध्यक्ष के रूप में कार्य कर चुके प्रो. नाग ने अपने कई संस्मरण साझा किए। उन्होंने नैक टीम के आने से लेकर फाइनल रिपोर्ट देने तक आने वाली तमाम चुनौतियों एवं उनसे निपटने के उपायों की भी उन्होंने विस्तृत चर्चा की।
कायर्क्रम की अध्यक्षता करते हुए कुलपति प्रो. कल्पलता पांडेय ने सभी 128 महाविद्यालयों को नैक की तैयारी करने के लिए प्रोत्साहित किया। उन्होंने कहा कि 15 दिन के भीतर सभी कॉलेज इस संदर्भ में अपने विचार और योजना प्रस्तुत करें। यह भी कहा कि हम आपसी सहयोग और सतत तैयारी के साथ यह कार्य आसानी से कर सकते हैं।
कार्यक्रम में लगभग 125 प्रतिभागी सम्मिलित हुए। अतिथियों का स्वागत कार्यक्रम के संयोजक डॉ. दयालानंद राय ने किया। संचालन क्रमशः अनिल कुमार, सुजीत वर्मा, रंजना व प्रीति ने किया। धन्यवाद ज्ञापन डॉ. रमाकांत सिंह ने किया। इसकी जानकारी विवि के जनसंपर्क अधिकारी जैनेन्द्र कुमार पांडेय ने दिया। 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

दियारा में गोली मारकर खलासी की हत्या

छपरा। जिले के डोरीगंज तथा भोजपुर जिले के बड़हरा थाना के सीमावर्ती बलवंत टोला दियारा क्षेत्र में बालू लोडिंग को लेकर उत्पन्न विवाद में...

सरकार नागरिकों को नल का जल उपलब्ध कराने के लिए प्रतिबद्ध: उप मुख्यमंत्री

पटना। बिहार के उप मुख्यमंत्री-सह- नगर विकास विभाग के मंत्री तारकिशोर प्रसाद ने बिहार विधानसभा में प्रश्न का उत्तर देते हुए कहा कि बिहार...

स्कूलों में पठन-पाठन शुरू होने से बढ़ी चहल-पहल

पूर्णिया। जिले के बनमनखी अनुमंडल के सरसी थाना क्षेत्र स्थित सभी सरकारी एवं गैर सरकारी स्कूलों में सोमवार से पठन-पाठन शुरू हो गयी है।...

पंचायत चुनाव से सम्बंधित जिला स्तरीय बैठक

मोतिहारी। उप विकास आयुक्त सह प्रभारी जिलाधिकारी कमलेश कुमार सिंह की अध्यक्षता में पंचायत निर्वाचन 2021 के संबंध में जिला स्तरीय पदाधिकारियों के साथ एक बैठक गुरुवार...

Recent Comments