saran
mani head
nitiraj .
harsh-head
ajay kumar head
sonali header
previous arrow
next arrow
Spread the love
Home State Delhi नेपाल के प्रधानमंत्री के विवादित बयान पर अयोध्या के सांसद ने कहा,...

नेपाल के प्रधानमंत्री के विवादित बयान पर अयोध्या के सांसद ने कहा, चीन की भाषा न बोलें ओली

Spread the love
नई दिल्ली। नेपाल के प्रधानमंत्री केपी शर्मा ओली के विवादित बयान को अयोध्या के सांसद लल्लू सिंह ने बेतुका बताया है। उन्होंने कहा कि नेपाल के प्रधानमंत्री चीन की भाषा बोल रहे हैं। उन्हें इतिहास की कोई जानकारी नहीं है। आदिकाल से सभी ग्रंथों में अयोध्या को सरयू नदी के किनारे ही बताया गया है। यहीं भगवान राम का जन्म हुआ, माता सीता जनकपुर से अयोध्या आईं।
उन्होंने पूछा है कि किस ग्रंथ में नेपाल के प्रधानमंत्री केपी शर्मा को अयोध्या नेपाल में भी दिखाई दी? नेपाल के प्रधानमंत्री ओली चीन के इशारे पर बोलते-बोलते अब लोगों की आस्था से भी खेलने लगे हैं। राम की नगरी अयोध्या को नकली बताते हैं, जो नेपाल के लोग भी बर्दाश्त नहीं करेंगे। अयोध्या एक ही है जो सरयू नदी के किनारे है और आज से नहीं आदिकाल से है।
हिन्दुस्थान समाचार के साथ बात करते हुए सांसद लल्लू सिंह ने कहा कि नेपाल से हमारे अच्छे राजनीतिक और सांस्कृतिक संबंध रहे हैं। नेपाल को जब भी आवश्यकता हुई है, भारत उनके सुख-दुख में हमेशा साथ रहा है। नेपाल की जनता भी भारत को अपना हितैशी मानती है। चीन के इशारे पर नेपाल के प्रधानमंत्री अब बेतुकी बातें करने लगे हैं। इस बार तो उन्होंने आस्था पर ही वार कर दिया, जिसका जवाब नेपाल की जनता उन्हें देगी। भारत के लोगों के साथ-साथ नेपाल के लोगों की भी आस्था भगवान राम में है। आने वाले दिनों में नेपाल के प्रधानमंत्री द्वारा दिए गए इस तरह के बयान का जवाब उन्हें जरूर मिलेगा, उनकी जनता ही उन्हें जवाब देगी।
उल्लेखनीय है कि नेपाल के प्रधानमंत्री केपी शर्मा ओली ने भारतीय आस्था को चुनौती दी है। ओली ने विवादित दावा किया है कि भगवान राम का जन्म स्थान अयोध्या नेपाल में है। उन्होंने यह भी दावा किया कि भगवान राम नेपाली थे। काठमांडु में पीएम आवास में सोमवार को आयोजित एक कार्यक्रम में ओली ने कहा था कि अयोध्या असल में नेपाल के बीरभूमि जिले के पश्चिम में स्थित थोरी शहर में है। भारत दावा करता है कि भगवान राम का जन्म वहां हुआ था। उसके इसी लगातार दावे के कारण हम मानने लगे हैं कि देवी सीता का विवाह भारत के राजकुमार राम से हुआ था, जबकि असलियत में अयोध्या बीरभूमि के पास स्थित एक गांव है। नेपाल के प्रधानमंत्री ओली ने भारत पर सांस्कृतिक अतिक्रमण का आरोप लगाते हुए कहा भारत ने एक नकली अयोध्या का निर्माण किया है।
banner all
banner all
previous arrow
next arrow

Most Popular

महिला उद्यमी योजना का शुभारंभ, एक फीसदी ब्याज पर मिलेगी धनराशि

पटना। मुख्यमंत्री नीतीश कुमार (CM Nitish Kumar) ने सीएम महिला उद्यमी एवं मुख्यमंत्री युवा उद्यमी योजना का शुक्रवार शाम शुभारंभ किया। इस मौके पर...

बाढ़ पीड़ितों के लिए सामुदायिक किचेन की शुरुआत

बगहा। बगहा पुलिस जिला अंतर्गत वाल्मीकि नगर थाना (Valmiki nagar Police Station) क्षेत्र के लक्ष्मीपुर रमपुरवा पंचायत के चकदहवा क्षेत्र में बाढ़ पीड़ितों के...

वाल्मीकिनगर सांसद ने किया बाढ प्रभावित क्षेत्रों का दौरा

बगहा। वाल्मीकि नगर सांसद सुनील कुमार (MP Sunil Kumar) ने शुक्रवार को बगहा विधानसभा क्षेत्र के बाढ़ से प्रभावित विभिन्न क्षेत्रों का दौरा कर बाढ...

दुष्कर्म के प्रयास में पांच वर्ष की सजा

बेतिया। पॉक्सो के विशेष न्यायाधीश अरुण कुमार ने नाबालिग से दुष्कर्म (Rape) के एक मामले में मानपुर थाना (Manpur Police Station) क्षेत्र के जिअना निवासी...

Covid-19 Update

India
768,847
Total active cases
Updated on June 19, 2021 1:39 am