previous arrow
next arrow
Slider
Spread the love
Home ब्रेकिंग न्यूज प्रो. लोकेश ने बिहार सरकार की मुहिम दहेज मुक्त समाज को अपनाकर,...

प्रो. लोकेश ने बिहार सरकार की मुहिम दहेज मुक्त समाज को अपनाकर, सरकार के सपनों को किया साकार

Spread the love

 

नीरज कुमार सिंह:

मोतिहारी। दहेज न मिलने या कम मिलने पर आये दिन रिश्ते दरक रहे हैं। सात जन्मों की कसमें सात दिन में टूट जा रही हैं। शादियों में दोनों तरफ से पैसा पानी की तरह बहाया जा रहा है। दिखावे व लालच के ऐसे दौर में ग्रामीण परिवेश में अपनी शिक्षा-दीक्षा की शुरुआत जिहुली उच्च माध्यमिक विद्यालय से मैट्रिक पास कर मोतिहारी एमएस कॉलेज से इंटर, काशी हिंदू विश्वविद्यालय बनारस से बीएससी बीएचयू में मैथ से ग्रेजुएशन, आईआईटी कानपुर से मैथ में गोल्ड मेडलिस्ट एमएससी, भारत के प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह ने किया था पुरस्कृत जिहुली गांव निवासी प्रोफेसर डॉ लोकेश ने समाज के सामने नई मिसाल पेश की है। उसने विश्व के प्रसिद्ध देवों के देव महादेव की नगरी बैद्यनाथ धाम, में 22 नवंबर 2019 शुक्रवार को शादी रचाई है। बिहार के भागलपुर तिलकामांझी यूनिवर्सिटी
में मैथ के प्रोफेसर डॉ लोकेश कुमार तकरीबन साल भर पहले उच्चतर शिक्षा सेवा चयन आयोग में चयनित हुए। लड़के के पिता समाजसेवी अजय कुमार शर्मा, ने कहा कि हमने अपने दो पुत्री और दो बहन की शादी मे तबाही देखकर यह फैसला बहुत पहले लिया था। हमें अपने पुत्र और पुत्रवधू पर गर्व है।बेगूसराय जिले के बरौनी पासोपुर ग्राम निवासी लड़की के पिता शिक्षक संघ के अध्यक्ष संजय कुमार की पुत्री सीएम कॉलेज भागलपुर से एमएससी कर रही खुशबू कुमारी, एक दूसरे के संपर्क में व्याख्यान समारोह के दौरान आ गए और दोनों ने ही इस शादी को खुशी खुशी से सहर्ष स्वीकार कर लिया। इसके बाद दोनों घर वाले के परिजनों ने। आपसी सहमति से दोनों लड़के और लड़की के परिजनों ने समाज को दहेज कि कुरीति से मुक्ति की ओर प्रेरित करते हुए खुद आदर्श विवाह को तैयार हो गए। एक छोटी रस्म गांव पर भगवान की पूजा कुल देवताओं की पूजा का रस्म अदा किया गया। अपने परिजनों व कुछ नजदीकी रिश्तेदारों के साथ पहुंचे झारखंड के बाबा नगरी देवघर में वैदिक विधि से विवाह रचाया। न पटाखों का शोर, न आंडबर का कोई इंतजाम। इस दौरान बातचीत में नव दंपती ने कहा कि प्रचार प्रसार और उपदेश देने मे हम भरोसा नहीं रखते हैं। कुछ करके उदाहरण बना जाए, उनके विचार मिले और फिर शादी का फैसला किया। समाज में दहेज और नाजायज खर्च का चलन बहुत अखरता है, ऐसी कार्यक्रम को लेकर, मुखिया अजेय कुमार सिंह, चिकित्सा पदाधिकारी डॉ. गजेंद्र सिंह, ने कहा कि प्रो. लोकेश ने बिहार में दहेज मुक्त सरकार की नीति और अभियान को आगे बढ़ाया है और समाज में, युवकों को एक संदेश दिया है जो लोगों को सीख लेने की जरूरत है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

दियारा में गोली मारकर खलासी की हत्या

छपरा। जिले के डोरीगंज तथा भोजपुर जिले के बड़हरा थाना के सीमावर्ती बलवंत टोला दियारा क्षेत्र में बालू लोडिंग को लेकर उत्पन्न विवाद में...

सरकार नागरिकों को नल का जल उपलब्ध कराने के लिए प्रतिबद्ध: उप मुख्यमंत्री

पटना। बिहार के उप मुख्यमंत्री-सह- नगर विकास विभाग के मंत्री तारकिशोर प्रसाद ने बिहार विधानसभा में प्रश्न का उत्तर देते हुए कहा कि बिहार...

स्कूलों में पठन-पाठन शुरू होने से बढ़ी चहल-पहल

पूर्णिया। जिले के बनमनखी अनुमंडल के सरसी थाना क्षेत्र स्थित सभी सरकारी एवं गैर सरकारी स्कूलों में सोमवार से पठन-पाठन शुरू हो गयी है।...

पंचायत चुनाव से सम्बंधित जिला स्तरीय बैठक

मोतिहारी। उप विकास आयुक्त सह प्रभारी जिलाधिकारी कमलेश कुमार सिंह की अध्यक्षता में पंचायत निर्वाचन 2021 के संबंध में जिला स्तरीय पदाधिकारियों के साथ एक बैठक गुरुवार...

Recent Comments