previous arrow
next arrow
Slider
Spread the love
Home State Delhi भारत की एक इंच भी जमीन कोई नहीं छीन सकता: राजनाथ सिंह

भारत की एक इंच भी जमीन कोई नहीं छीन सकता: राजनाथ सिंह

Spread the love
नई दिल्ली। चीन के साथ बॉर्डर पर चल रहे तनाव के बीच दो दिवसीय दौरे पर शुक्रवार सुबह लेह पहुंचे रक्षामंत्री राजनाथ सिंह लद्दाख में सीमा पर तैनात सैनिकों और आईटीबीपी जवानों से मिले और सीमाओं की सुरक्षा के लिए उनकी प्रशंसा की। रक्षामंत्री ने उन्हें दिन-रात देश की सेवा जारी रखने के लिए प्रेरित किया। उन्होंने कहा कि आप लोगों की वजह से ही भारत की एक इंच भी जमीन दुनिया की कोई ताकत छीन नहीं सकती। 
 
रक्षामंत्री राजनाथ सिंह ने लद्दाख़ पहुंंचकर सीमावर्ती इलाक़ों का दौरा किया और लुकुंग चौकी पर जाकर भारतीय सेना के जांंबाज जवानों एवं अधिकारियों से मिलकर उनकी हौसला अफजाई की। उन्होंने जवानों को सम्बोधित करते हुए कहा कि देश के जवान देश की आन, बान और शान हैं लेकिन 15 जून को चीनी सैनिकोंं के साथ गलवान घाटी की झड़प में सेना के 20 जवानों को खोने का गम भी है। रक्षा मंत्री ने कहा कि चीन से अब तक हुई चार दौर की बातचीत में जितनी प्रगति हुई है, उससे मामला हल होना चाहिए लेकिन विवाद कहां तक हल होगा, इसकी गारंटी नहीं दे सकता। इसके बावजूद इतना यकीन दिलाना चाहता हूं कि भारत की एक इंच जमीन भी दुनिया की कोई ताक़त छीन नहीं सकती, उस पर कोई कब्जा नहीं कर सकता। 
 
रक्षामंत्री ने कहा कि भारत दुनिया का इकलौता देश है, जिसने सारे विश्व को शांति का संदेश दिया है। हमने किसी भी देश पर कभी आक्रमण नहीं किया है और न ही किसी देश की जमीन पर हमने कब्जा किया है। भारत ने वसुधैव कुटुम्बकम का संदेश दिया है। हम अशांति नहीं चाहते, हम शांति चाहते हैं। हमारा चरित्र रहा है कि हमने किसी भी देश के स्वाभिमान पर चोट मारने की कभी कोशिश नहीं की है। इसके बावजूद अगर भारत के स्वाभिमान पर चोट पहुंंचाने की कोशिश की गई तो हम किसी भी सूरत में बर्दाश्त नहीं करेंगे और मुंहतोड़ जवाब देंगे। 
 
रक्षामंत्री ने कहा कि भारतीय सेना के ऊपर हमें नाज है। आज आपसे मिलकर मुझे खुशी हो रही है तो मन में एक पीड़ा भी है। हाल ही में भारत और चीन सैनिकों के बीच जो भी कुछ हुआ, उसमें हमारे कुछ जवानों ने अपना बलिदान देते हुए अपनी सीमा की रक्षा की। उन्हें खोने का गम और आपसे मिलने की खुशी है, मैं उन्हें श्रद्धांजलि अर्पित करता हूं। आप लोगों ने केवल भारत की सीमा की सुरक्षा नहीं की है बल्कि 130 करोड़ भारतवासियों के सम्मान की सुरक्षा भी की है। 
 
उन्होंने कहा कि आज लद्दाख में खड़े होकर मैं कारगिल युद्ध में अपने प्राणों की बाजी लगाकर भारत की सीमाओं की रक्षा करने वाले बहादुर सैनिकों को भी स्मरण एवं नमन करते हुए श्रद्धांजलि अर्पित करता हूंं। लुकुंग में रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने भारतीय सेना और आईटीबीपी कर्मियों को मिठाई खिलाई और उन्हें गिफ्ट भी दिए। भारतीय सेना और आईटीबीपी कर्मियों के साथ बातचीत करने के दौरान रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह के साथ चीफ ऑफ डिफेंस स्टाफ जनरल बिपिन रावत और सेना प्रमुख जनरल एमएम नरवणे भी मौजूद रहे। इससे पहले रक्षामंत्री भारतीय सेना के एक खास कार्यक्रम में शामिल हुए। उनके सामने लेह में भारतीय सेना और वायु सेना ने संयुक्त अभ्यास करके अपनी ताकत दिखाई। 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

अंतरराष्ट्रीय शूटर और भाजपा विधायक श्रेयसी सिंह ने किया मैराथन दौड़ का उद्घाटन

पटना/रोहतास। रोहतास जिला प्रशासन एवं रोहतास जिला एथलेटिक्स संघ के संयुक्त तत्वाधान में अंतरराष्ट्रीय महिला दिवस पर आयोजित रोहतास मिनी मैराथन, 2021 का उद्घाटन...

घर में घुसकर महिला को मारी गोली, हालत नाजुक

बेगूसराय। बेगूसराय में बेखौफ अपराधियों का कहर लगातार जारी है। सोमवार की दोपहर को बदमाशों ने घर में घुसकर एक महिला को गोली मार...

महिला दिवस पर वालीवाल कार्यक्रम का आयोजन

दरभंगा। महिला दिवस के अवसर पर कामेश्वर सिंह दरभंगा संस्कृत विश्वविद्यालय के शिक्षा शास्त्र विभाग में सोमवार को वॉलीवाल कार्यक्रम का आयोजन किया गया।इसकी...

अतिथि मानकर दी जायेगी डायलसिस की सुविधाएं

बेतिया। बेतिया जी.एम.सी.एच. के सी-ब्लाॅक के सेकेन्ड फ्लोर पर अवस्थित डायलसिस सेन्टर का विधिवत उद्घाटन आज जिलाधिकारी कुंदन कुमार द्वारा किया गया। इस अवसर पर...

Recent Comments