previous arrow
next arrow
Slider
Spread the love
Home State भूमि पूजन में दलित महामंडलेश्वर स्वामी कन्हैया प्रभुनन्दन गिरि को बुलाना होता...

भूमि पूजन में दलित महामंडलेश्वर स्वामी कन्हैया प्रभुनन्दन गिरि को बुलाना होता बेहतर : मायावती

Spread the love
लखनऊ। अयोध्या में 05 अगस्त को प्रस्तावित राम मंदिर के भूमि पूजन में खुद को नहीं बुलाए जाने पर नाराजागी जताने वाले दलित महामंडलेश्वर स्वामी कन्हैया प्रभुनंदन गिरि का बहुजन समाज पार्टी (बसपा) की सुप्रीमो व पूर्व मुख्यमंत्री मायावती ने समर्थन किया है। मायावती ने कहा कि समारोह में अन्य सन्तों की तरह स्वामी कन्हैया प्रभुनन्दन गिरि को बुलाना बेहतर होता। हालांकि उन्होंने दलित समाज को इन सबके बजाय डॉ. अम्बेडकर के बताए रास्ते पर चलने और श्रम-कर्म पर ध्यान देने की नसीहत दी है। 
मायावती ने शुक्रवार को ट्वीट किया कि दलित महामंडलेश्वर स्वामी कन्हैया प्रभुनन्दन गिरि की शिकायत के मद्देनजर यदि अयोध्या में 05 अगस्त को होने वाले भूमिपूजन समारोह में अन्य 200 साधु-सन्तों के साथ इनको भी बुला लिया गया होता तो यह बेहतर होता। इससे देश में जातिविहीन समाज बनाने की संवैधानिक मंशा पर कुछ असर पड़ सकता था।
उन्होंने कहा कि वैसे जातिवादी उपेक्षा, तिरस्कार व अन्याय से पीड़ित दलित समाज को इन चक्करों में पड़ने के बजाए अपने उद्धार हेतु श्रम-कर्म में ही ज्यादा ध्यान देना चाहिए व इस मामले में भी अपने मसीहा परमपूज्य बाबा साहेब डॉ. भीमराव अम्बेडकर के बताए रास्ते पर चलना चाहिए, यही बीएसपी की इनको सलाह है।
इससे पहले अनुसूचित जाति से ताल्लुक रखने वाले महामंडलेश्वर स्वामी कन्हैया प्रभुनन्दन गिरि भूमि पूजन में खुद को नहीं बुलाए जाने पर नाराजगी जताते हुए इसे दलितों की उपेक्षा करार दे चुके हैं। उन्होंने कहा कि पहले मंदिर निर्माण के लिए गठित ट्रस्ट में किसी दलित को जगह नहीं दी गई और उसके बाद अब भूमि पूजन समारोह में भी इस समुदाय की उपेक्षा की जा रही है। भगवान राम ने हमेशा पिछड़ों और उपेक्षितों की मदद कर उनका उद्धार किया। लेकिन, राम के नाम पर सत्ता में बैठे लोग दलित समुदाय के साथ भेदभाव कर रहे हैं।
हालांकि अखाड़ा परिषद के अध्यक्ष महंत नरेन्द्र गिरि का कहना है कि सन्यासी जीवन में आने के बाद संत की कोई जाति नहीं रह जाती, इसलिए कन्हैया गिरि का खुद को दलित बताया जाना गलत है। 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

प्रभारी डीएम ने कौशल रथ को हरी झंडी दिखाकर रवाना किया

मोतिहारी। उप विकास आयुक्त सह प्रभारी जिलाधिकारी कमलेश सिंह ने शनिवार को जीविका की ओर से संचालित दीनदयाल उपाध्याय ग्रामीण कौशल योजना को लोगों में...

खजूरबनी शराबकांड में मौत की सजा गड़बड करने वालों के लिए सबक : नीतीश

पटना। मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने गोपालगंज के खजूरबानी में जहरीली शराब पीने से 19 लोगों की हुई मौत के मामले में नौ लोगों को न्यायालय से...

अल्पसंख्यक बालक छात्रावास में 31 मार्च तक लिया जायेगा नामांकन आवेदन: रश्मि

सहरसा। जिला स्कूल कैम्पस में नवनिर्मित अल्पसंख्यक बालक छात्रावास में नामांकन हेतु 31 मार्च तक आवेदन स्वीकार किया जाएगा।उक्त बातो की जानकारी अल्पसंख्यक कल्याण...

एक दर्जन मवेशियों के साथ पांच पशु तस्कर गिरफ्तार

बेतिया। पश्चिम चंपारण जिला के चौतरवा थाना की पुलिस में पशु तस्करों के विरुद्ध छापेमारी अभियान चलाकर एक दर्जन मवेशियों के साथ पांच पशु...

Recent Comments