Spread the love
  • 1
    Share

बक्सर। बक्सर जिले में शांत माहौल में शनिवार से शुरू होने वाले शारदीय नवरात्र को लेकर पूरा वातावरण भक्तिमय हो गया है। इस बाबत कलश स्थापन को लेकर बाजारों में विशेष कर पूजा-पाठ सामग्री की दुकानों पर लोगों की  शुक्रवार की सुबह से ही भीड़ देखी गई। इसके अलावा गंगा के घाटों पर गंगा की मिटटी लेने, मिटटी का कलश लेने के लिए लोगों का तांता लगा हुआ था। जिले में स्थापित दुर्गा मंदिरों के साज—सज्जा को मंदिर प्रबंधकों द्वारा अंतिम रूप देते हुए मां की प्रतिमा को आकर्षक ढंग से सजाया गया है। जिला मुख्यालय स्थित गौरीशंकर मंदिर को आकर्षक ढंग से सजाया गया है। कोरोना काल को लेकर प्रशासन द्वारा जिले के मंदिर प्रबंधकों समेत पूजा समितियों को निर्धारित नियमों और प्रतिबंधो से अवगत कराया जा चुका है। प्रशासन ने पूर्व में ही पंडाल निर्माण, तोरणद्वार निर्माण पर रोक लगा रखी है। साथ ही विधानसभा चुनाव को लेकर आदर्श आचार संहिता का उलंघन न हो इसके लिए  ऐसे किसी भी थीम युक्त पोस्टर और डेकोरेशन पर भी प्रशासन ने रोख लगा रखी है।  इस वजह से पूजा समितियों ने पंडाल निर्माण की जगह कलश रखकर ही सप्तशती के पाठ करने का निर्णय लिया है। कलश स्थापना और कल शनिवार के दिन सप्तशती अनुष्ठान को लेकर जिला मुख्यालय के कुल तेरह घाटों पर प्रशासन द्वारा शुक्रवार से ही चौकसी बरती जा रही थी। प्रशासन ने सभी घाटों पर स्नानार्थियों की भीड़ को लेकर स्थानीय गोताखोरों को अलर्ट मोड पर रखा है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here