previous arrow
next arrow
Slider
Spread the love
Home State Bihar सरकार नागरिकों को नल का जल उपलब्ध कराने के लिए प्रतिबद्ध: उप...

सरकार नागरिकों को नल का जल उपलब्ध कराने के लिए प्रतिबद्ध: उप मुख्यमंत्री

Spread the love

पटना। बिहार के उप मुख्यमंत्री-सह- नगर विकास विभाग के मंत्री तारकिशोर प्रसाद ने बिहार विधानसभा में प्रश्न का उत्तर देते हुए कहा कि बिहार सरकार सभी शहरी क्षेत्रों मे नागरिकों को गृह जल संयोजन के माध्यम से नल का जल मुहैया कराने के लिए प्रतिबद्ध है। नियत समय पर सभी घरों में गृह जल संयोजन के माध्यम से पेयजल की सुविधा मुहैया कराई जाएगी।

previous arrow
next arrow
Slider

डिप्टी सीएम तारकिशोर प्रसाद ने कहा कि राज्य के सभी नगर निकायों में लक्षित 31 जनवरी 2021 तक कुल 15 लाख 85 हजार 400 घरों के विरुद्ध 10 लाख 26 हजार 777 घरों में गृह जल संयोजन का कार्य किया जा चुका है, जो लक्ष्य का 65 प्रतिशत है। उन्होंने कहा कि राज्य योजना के अधीन नगर निगम मुजफ्फरपुर में क्रियान्वित जलापूर्ति योजना के अंतर्गत 49 वार्डों के 69,051 घरों में जल संयोजन किया जाना है, जिसमें 37,000 घरों में कार्य पूर्ण कर लिया गया है, जो लक्ष्य का 53 प्रतिशत है। शेष घरों में शीघ्र ही गृह जल संशोधन का कार्य पूरा किया जाएगा।

उपमुख्यमंत्री ने सदन को जानकारी देते हुए कहा कि नगर निगम, मुंगेर के अंतर्गत गृह जल संयोजन का कार्य पूर्ण करने का लक्ष्य अप्रैल 2022 निर्धारित है। पूर्णिया नगर निगम के अंतर्गत अमृत योजना के तहत 50 प्रतिशत घरों में गृह जल संयोजन का कार्य पूरा कर लिया गया है। कटिहार नगर निगम में अमृत योजना के अंतर्गत 35,205 घरों में से 12,683 घरों में गृह जल संयोजन का कार्य पूर्ण कर लिया गया है, जो लक्ष्य का 36 प्रतिशत है। इसी प्रकार दरभंगा के 48 वार्डों में से 8 वार्डों में पूर्ण रूप से तथा दो वार्ड में आंशिक रूप से गृह जल संयोजन की योजनाएं अमृत योजना के माध्यम से क्रियान्वित की गई हैं। उन्होंने कहा कि दरभंगा के 10,822 लक्षित वार्डों के विरुद्ध 10,297 घरों में गृह जल संयोजन का कार्य पूर्ण कर लिया गया है। शेष 40 वार्डों में लोक स्वास्थ्य अभियंत्रण विभाग से समन्वय स्थापित कर योजनाएं क्रियान्वित करने की कार्रवाई की जा रही है।

उप मुख्यमंत्री ने कहा कि नगर विकास एवं आवास विभाग सभी शहरी नगर निकायों के नागरिकों को नल का जल उपलब्ध कराने के लिए कृत संकल्पित है। विभाग के स्तर से क्रियान्वित योजनाओं का नियमित अनुश्रवण किया जा रहा है। समुचित अनुश्रवण के लिए प्रमंडल स्तर पर विभागीय पदाधिकारियों को जिम्मेदारी दी गई है। उन्होंने कहा कि कोरोना के कारण कुछ तकनीकी बाधाएं आई थी, परंतु आगामी महीनों में क्रियान्वित योजनाओं में गति दिखेगी और निश्चित रूप से इसे शीघ्र पूरा किया जाएगा।

previous arrow
next arrow
Slider

Most Popular

आप वाहन लेकर वाल्मीकि व्याघ्र परियोजना में नहीं जा सकेंगे

बगहा। वाल्मीकिनगर के वाल्मीकि व्याघ्र परियोजना (VTR)  के वन क्षेत्र में निजी वाहनों के प्रवेश पर रोक लगा दी गई है। साथ ही मंदिर...

सजायाफ्ता कैदी की इलाज दौरान हुई मौत

बेतिया। जिले के  मंडल कारा (JAIL) के एक सजायाफ्ता कैदी की सोमवार को इलाज के दौरान मौत (DEATH) हो गई। वह दुष्कर्म के एक...

एसबीआई बैंक का स्टाफ कोरोना पॉजिटिव

बेतिया। बेतिया (BETTIAH) से दस किलो मीटर दूर नौतन एसबीआई (SBI) के एकाउन्टेन्ट नौलेश कुमार के पोजिटिव रिपोर्ट सोमवार को आने के बाद बैक...

बेतिया के जीएमसीएच में युवती की मौत पर हंगामा

बेतिया। गवर्नमेंट मेडिकल कॉलेज अस्पताल (GMCH) के फिमेल मेडिसिन वार्ड में शिवानी कुमारी (16) की मौत सोमवार की सुबह हो गयी। परिजनों ने चिकित्सक...

Covid-19 Update

India
1,264,544
Total active cases
Updated on April 13, 2021 1:43 am