previous arrow
next arrow
Slider
Spread the love
Home Patna सुशांत सिंह राजपूत आत्महत्या मामले की जांच करा दोषियों को सजा दिलायेंः...

सुशांत सिंह राजपूत आत्महत्या मामले की जांच करा दोषियों को सजा दिलायेंः चिराग

Spread the love

पटना। बॉलीवुड के दिवंगत अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत की आत्महत्या का मामला लगातार तूल पकड़ते जा रहा है। मुजफ्फपुर में एकता कपूर, सलमान खान, संजय लीला भंसाली, करण जौहर सहित 8 लोगों पर केस होने के बाद अब राजनेता भी सुशांत के पक्ष में खड़े होने लगे हैं। गुरुवार को लोक जनशक्ति पार्टी (लोजपा) के राष्ट्रीय अध्यक्ष व सांसद चिराग पासवान ने भी मामले की जांच कर दोषियों के खिलाफ कार्रवाई की मांग की है। पूर्व सिने अभिनेता चिराग पासवान ने गुरुवार को मुख्यमंत्री नीतीश कुमार को पत्र लिखकर इस मामले में हस्तक्षेप करते हुए न्याय दिलाने की अपील की है। पत्र में उन्होंने कहा है कि बिहार के सुशांत सिंह राजपूत अपने अभिनय के कारण पूरे देश में लोकप्रिय थे। 3 दिनों पहले दुखद मृत्यु आत्महत्या के कारण हुई है। यह घटना न सिर्फ बिहार, बल्कि पूरे देश के लिए शोक वाली है। चिराग ने लिखा है कि मैं इस घटना के बाद से सुशांत के परिवार के सदस्यों और मित्रों से लगातार संपर्क में हूं। उनके कुछ करीबियों ने इस घटना के पीछे गुटबंदी के साथ ही साजिश की ओर इशारा किया है जिस कारण सुशांत को आत्महत्या करनी पड़ी। चिराग ने मुख्यमंत्री नीतीश कुमार से अपील करते हुए लिखा है कि व्यक्तिगत तौर पर सुशांत सिंह राजपूत के परिवार का करीबी होने के नाते यह जानता हूं कि वह एक साफ दिल, मेहनती और प्रतिभाशाली इंसान थे। भविष्य में किसी बिहारी युवक के साथ ऐसी घटना नहीं हो इसलिए लोजपा मांग करती है कि बिहार सरकार इस मामले में हस्तक्षेप करे और महाराष्ट्र सरकार से बात कर इस मामले की गंभीरता से जांच कराएं। साथ ही महाराष्ट्र सरकार से उन सभी पर कार्रवाई करे जो गुटबंदी कर छोटे शहरों से आए प्रतिभावान लोगों को आगे बढ़ने से रोकते हैं। सुशांत सिंह राजपूत को न सिर्फ आगे बढ़ने से रोका गया, बल्कि इतना मजबूर कर दिया गया कि जिंदगी से हार मानकर उन्होंने आत्महत्या कर ली। सांसद चिराग पासवान ने मुख्यमंत्री नीतीश कुमार से कहा है कि घर-परिवार छोड़कर अपने सपने को पूरा करने के लिए बिहार के युवा दूसरे प्रदेशों में जाते हैं। इसलिए बिहार सरकार की जिम्मेदारी बनती है कि उन्हें सुरक्षित रखने में अपनी मजबूत भूमिका निभाये। अतः सरकार को अपने दायित्व का निर्वहन करते हुए इस मामले की गंभीरता से जांच कराये और दोषियों को सजा दिलाये। इससे दूसरे प्रदेशों में रह रहे बिहारियों का विश्वास भी सरकार के प्रति बढ़ेगा। उल्लेखनीय है कि पटना के रहने वाले सुशांत सिंह राजपूत ने रविवार को मुंबई स्थित अपने फ्लैट पर फांसी लगाकर खुदकुशी कर ली थी। सुशांत के परिवार सहित बिहार के लोग इस मामले की जांच कर रहे हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

18 माह की बच्ची के दुष्कर्मी को आजीवन कारावास की सजा, निर्भया फंड से मिलेगी मदद

बेगूसराय। दुष्कर्म मामले के एक आरोपी को बेगूसराय न्यायालय ने आजीवन कारावास की सजा सुनाई है। न्यायालय ने दो साल तक मामले पर विचारने...

सिविल सर्जन ने सूर्या हॉस्पिटल में कोविड वेक्सिनेशन सेंटर का किया शुभारंभ

सहरसा। शहर के गांधी पथ स्थित सूर्या हॉस्पिटल में सोमवार को कोविड-19 वैक्सीनेशन सेन्टर का शुभारंभ किया गया। जिसका उद्घाटन सिविल सर्जन डॉ अवधेश...

बॉडी बिल्डिंग में क्षितिज ने किया पूर्णिया का नाम रोशन

पूर्णिया। पूर्णिया के लाल क्षितिज कुमार ने बिहारशरीफ के आई.एम.ए.हॉल में एनबीबीएफ द्वारा आयोजित सीनियर मिस्टर बिहार बॉडी बिल्डिंग प्रतियोगता में बिहार में टॉप-5 में...

19 लाख रोजगार मांग रहा युवा बिहार: राजू मिश्रा

दरभंगा। ऑल इंडिया यूथ फेडरेशन (एआईवाईएफ) दरभंगा जिला परिषद् द्वारा सोमवार को राज्यव्यापी आवाह्न पर विभिन्न मांगों को लेकर जिला समाहरणालय पर आक्रोशपूर्ण प्रदर्शन...

Recent Comments