बीएनएम इम्पैक्ट: पुलिस लाइन के वायरल ऑडियो मामले में मुंशी हुआ निलंबित और सार्जेंट से पूछा गया स्पष्टीकरण

सागर सूरज

मोतिहारी: मोतिहारी एसपी कुमार आशीष ने भ्रष्टाचार की पोल खोलता एक वायरल ऑडियो के मामले में पुलिस लाइन के दिवा मुंशी नंद कुमार मिश्रा को निलंबित करते हुये विभागीय कार्रवाई का आदेश दिया है वही सार्जेंट मेजर को मामले में लग रहे आरोपों को लेकर स्पष्टीकरण की मांग की गयी है|

बता दे कि मोतिहारी पुलिस लाइन के सर्गेंट मेजर और दिवा मुंशी द्वारा सिपाहियों के कथित शोषण मामले में बीएनएम पर खबर चलने के बाद मोतिहारी पुलिस अधीक्षक कुमार आशीष ने वायरल ऑडियो की जाँच 24 घंटे में करने की जिम्मेवारी एएसपी सह मुख्यालय डीएसपी सतीश सुमन को दी थी|

hqdefault (1)

 

जाँच कर रहे एएसपी मुख्यालय के द्वारा मामला प्रथम दृष्ट्यंत सत्य प्रतीत पाया गया | श्री सुमन ने सम्बंधित पक्ष एवं विपक्षों का बयान दर्ज करते हुये अपना रिपोर्ट मोतिहारी एसपी को सौप दी फिर क्या था अपने बोल्ड निर्णय के लिए जाने जाने वाले एसपी आशीष ने तुरंत दिवा एसपी को निलंबित करते हुये मामले में विभागीय करवाई शुरू करने की आदेश दे डाली | एसपी के एस कार्रवाई के बाद पुलिस महकमे में हडकंप है |

बता दे कि वायरल ऑडियो में पुलिस लाइन के दिवा मुंशी एक सिपाही अमित कुमार से डयूटी देने को लेकर 10,000 रूपये की मांग कर रहे थे एवं यह मांग पुलिस लाइन के डीएसपी सह सार्जेंट मेजर के नाम पर की जा रही थी और यह भी कही जा रही थी कि बाकि दरोगा एवं सिपाहियों से पूछ लो सभी लोग रूपये देकर डयूटी लिए है | सिपाही अपनी गरीबी का हवाला देकर सिर्फ दो हजार ही देते हुये निहोरा और विनती कर रहा था फिर मुंशी ने यह कहते हुये डयूटी देने से इनकार कर दिया की कम रूपये की बात करने पर सार्जेंट गाली देगा |

फिर मुंशी जी कहते है कि डीएसपी साहब नही मानेंगे। कम से कम हज़ार तो लगेंगे। मेरे साथ चलकर डायरेक्ट साहब के हाथ में पैसा दे देना। सिपाही फिर कहता है कि पैसा नही था लेकिन किसी दोस्त से मांगकर हज़ार लाये है। ले लीजिए और डियूटी लगवा दीजिए लेकिन मुंशी जी कहते है कि नहीं ऐसा नही होगा। कम से कम हज़ार देने के बाद ही ड्यूटी लगेगा । नही है तो किसी से मांग लो। एक्सरसाइज विभाग में करवा देते है। साहब से एक दारोगा जी के सामने बात हुई है। एक्सरसाइज विभाग में न छूटी की टेंशन है ना ही हथियार ढोने का। वहीं ऊपरी आमदनी भी अच्छा है। तब सिपाही कहता है कि ठीक है हज़ार रखकर ड्यूटी लगवा दीजिए। बाकी कमाकर दे देंगे।

 

 

 

Tags:

About The Author

Post Comment

Comments

राशिफल

Live Cricket

Download Android App

Recent News

'वंदे मातरम' शब्द नहीं आजादी का मंत्र है, भारत फिर से बनेगा अखंड : गिरिराज सिंह    'वंदे मातरम' शब्द नहीं आजादी का मंत्र है, भारत फिर से बनेगा अखंड : गिरिराज सिंह  
बेगूसराय। आजादी के अमृत महोत्सव में केंद्रीय ग्रामीण विकास एवं पंचायती राज मंत्री गिरिराज सिंह ने रविवार को बेगूसराय में...
पेशी के लिए लाए गए सजायाफ्ता आनंद मोहन पहुंच गए घर, विरोधी दलों ने उठाएं सवाल
पूर्व क्रिकेटर रॉस टेलर का बड़ा खुलासा- राजस्थान रॉयल्स के मालिक ने उन्हें मारा था थप्पड़
नीतीश-तेजस्वी सरकार में सभी पार्टियों के लिए मंत्री पद की संख्या हुई तय, 16 अगस्त को लेंगे शपथ
तृणमूल सांसद ने सीबीआई व ईडी दफ्तर को सील करने की दी धमकी, वीडियो वायरल
स्वतंत्रता दिवस स्पेशल: देशभक्ति के जज्बे को सलाम करती फिल्में
मोतिहारी में छात्र का अपहरण, 20 लाख रूपए मांगी फिरौती

Epaper

मौसम

NEW DELHI WEATHER