ट्रंप के दूसरे महाभियोग ट्रायल में बरी होने पर कयास तेज

वाशिंगटन। अमेरिका के पूर्व राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प का दूसरा महाभियोग ट्रायल मंगलवार से शुरू हो रहा है जिसमें सीनेट को यह फैसला करना है कि 6 जनवरी को यूएस के कैपिटल हिल यानि अमेरिकी संसद की घेराबंदी करने के लिए ट्रंप को उनके समर्थकों की हिंसक भीड़ को उकसाने का दोषी ठहराया जाए या नहीं। ट्रम्प के बरी होने की उम्मीद सभी सीनेटरों पर टिकी […]

वाशिंगटन। अमेरिका के पूर्व राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प का दूसरा महाभियोग ट्रायल मंगलवार से शुरू हो रहा है जिसमें सीनेट को यह फैसला करना है कि 6 जनवरी को यूएस के कैपिटल हिल यानि अमेरिकी संसद की घेराबंदी करने के लिए ट्रंप को उनके समर्थकों की हिंसक भीड़ को उकसाने का दोषी ठहराया जाए या नहीं।

ट्रम्प के बरी होने की उम्मीद सभी सीनेटरों पर टिकी है। सभी 100 सीनेटर दंगों की ग्राफिक टेस्टीमनी सुनना होगा जिसमें पांच लोग मारे गए थे। सदन ने कैपिटल हिल में हुई हिंसा के एक सप्ताह बाद यानि 13 जनवरी को ट्रम्प पर महाभियोग लगाया था।

अमेरिकी संविधान कहता है कि सदन के पास महाभियोग की एकमात्र शक्ति है जबकि सीनेट उस व्यक्ति के ट्रायल की एकमात्र शक्ति होता है जिस व्यक्ति पर महाभियोग चलाया जाता है, वह राष्ट्रपति, उपराष्ट्रपति या संयुक्त राज्य अमेरिका का कोई भी सिविल अधिकारी हो सकता है, जिसे दो-तिहाई सीनेटरों के बहुमत से दोषी ठहराया जा सकता है।

हाउस अभियोजन पक्ष के रूप में प्रबंधकों को नियुक्त करता है जो सीनेट के सामने प्रतिवादी के वकीलों के साथ उनका मामला प्रस्तुत करता है। अभियोजकों और ट्रम्प की डिफेंस टीम के पास तर्क करने के लिए एक निर्धारित समय होगा और फिर सीनेटर एक अंतिम वोट से पहले लिखित रूप से कुछ सवाल भी पूछ सकते हैं।

संयुक्त राज्य अमेरिका के मुख्य न्यायाधीश आम तौर पर एक राष्ट्रपति के ट्रायल की अध्यक्षता करते हैं लेकिन ट्रम्प ने पद छोड़ दिया है। ऐसे में पीठासीन अधिकारी सेन पैट्रिक लीहाइ इस भूमिका में होंगे, जो लंबे समय तक बहुमत दल के सदस्य सीनेट के औपचारिक प्रमुख हैं।

एक बार जब सीनेटर महाभियोग के आरोप पर अपने अंतिम मत पर पहुंच जाते हैं, तो हर एक सीनेटर खड़े होकर और इस मामले पर अपना वोट डालता है। ट्रंप के मामले में भी सीनेटर बताएंगे कि वह उन्हें दोषी मानते हैं या नहीं।

About The Author

Latest News

विपीन अग्रवाल व पत्रकार हत्या मामले के कई अनछुए पहलुओं पर जांच करेंगे एसपी कुमार आशिष विपीन अग्रवाल व पत्रकार हत्या मामले के कई अनछुए पहलुओं पर जांच करेंगे एसपी कुमार आशिष
अभिनव धीमान के पर्वेक्षण टिप्पणी पर अगर भरोसा करें तो विपिन अग्रवाल हत्याकांड में कुल- 15 लोगों के विरुद्ध घटना...
जिला बार एसोसिएशन चुनाव को लेकर प्रत्याशियों ने दाखिल किया पर्चा, किंग मेकर्स पर टीकी निगाहें
CHAMPARAN के सबसे लंबे युवक के शानदार INTERVIEW @BORDER NEWS MIRROR के साथ || BNM TV | BNM TV ll
BJP संसद RAVI KISHAN बोले- UP में सब बा...SOCIAL MEDIA में हो रहा VIRAL
पुलिसिया छापेमारी से शराब कारोबारी, अपराधियों व भुमाफियायों में खौफ #IPSKUMARASHISH, EASTCHAMPARAN,
बीएनएम इम्पैक्ट: पुलिस लाइन के वायरल ऑडियो मामले में मुंशी हुआ निलंबित और सार्जेंट से पूछा गया स्पष्टीकरण
Vice President greets people on Lohri

Epaper

मौसम

NEW DELHI WEATHER

राशिफल

Live Cricket