previous arrow
next arrow
Slider
Spread the love
Home State Bihar आत्महत्या के पीछे का भयावह सच, गरीबी से पनपी फाकाकशी

आत्महत्या के पीछे का भयावह सच, गरीबी से पनपी फाकाकशी

Spread the love
 सुपौल। बिहार में सुपौल जिले के राघोपुर प्रखंड के भद्दी गांव निवासी मिश्रीलाल साह द्वारा अपनी पत्नी और तीन बच्चों के साथ खुदकुशी के पीछे का भयावह सच गरीबी से पनपी फाकाकशी है। बता दें कि आर्थिक तंगी रहने के बावजूद अपने स्वाभिमान पर कभी ठेस नहीं आने देने वाला मिश्री लाल साह दो साल पहले गरीबी के कारण अपनी बेटी की शादी यूपी के एक लड़का से करने के बाद से घर में कैद रहने लगे थे।

previous arrow
next arrow
Slider

मिश्रीलाल यादव के नजदीकी लोग बताते है कि बेटी की शादी के बाद तरह-तरह के सामाजिक ताना ने मिश्री को घर में कैद रहने को मजबूर कर दिया। कुछ दिनों तक मुर्गी पालन भी किया लेकिन उसमें भी नुकसान होने के बाद वह ईंट-भट्ठा पर मजदूरी करने लगा। लेकिन वहां भी उसे मन नहीं लगा और काम छोड़ घर में ही रहने लगा। कई बार मिश्री लाल की पत्नी आर्थिक तंगी के कारण काम काज करना चाही। लेकिन स्वाभिमानी मिश्री लाल ने अनुमति नहीं दी। लाचार होकर सभी लोग घर में ही रहने लगे। लेकिन सामाजिक ताना कम नहीं हुआ। लाचार मिश्री ने पूरे परिवार के साथ अपनी जीवन लीला समाप्त कर लेने की ठान ली।
पुलिस सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार सोमवार को ही मिश्री लाल साह ने अपनी जीवन लीला समाप्त कर ली। आत्महत्या करने से पहले पूरा परिवार मछली चावल खाया था। अब सवाल उठता है कि आखिर ऐसी कौन सी बात हुई कि मिश्री लाल साह ने पूरे परिवार के साथ आत्महत्या कर ली। उल्लेखनीय है कि शुक्रवार की देर रात मिश्री लाल साह ने पत्नी सहित तीन बच्चों के साथ आत्महत्या कर ली।
कोसी के इस इलाके में एक गिरोह यूपी और हरियाणा का चलता है। यह गिरोह आर्थिक रूप से कमजोर वर्ग के लोगों को अपनी चंगुल में फंसाकर कुछ राशि दे उनकी बेटी से विवाह कर चले जाते हैं। सूत्र बताते हैं कि मृतक की बेटी की भी विवाह कुछ ऐसे ही हुआ। जिसके बाद समाज में लोग उसे तरह-तरह के ताना देने लगे। इसके बाद से वह काफी मायूस रहने लगा। मामला जो भी हो लेकिन मिश्री का समाज में किसी से बेहतर संबंध नहीं होना कई सवाल खड़े कर रहे हैं। यहां यह भी बता दें कि भगवान की तस्वीरों के सामने नए कपड़े पहनकर सबों ने आत्महत्या की। अब सवाल उठता है कि जहां फाकाकशी की स्थिति थी, वहां नए कपड़े कहा से आए। कुल मिलाकर, उक्त घटना अपने पीछे कई सवाल छोड़ गए हैं।
previous arrow
next arrow
Slider

Most Popular

आप वाहन लेकर वाल्मीकि व्याघ्र परियोजना में नहीं जा सकेंगे

बगहा। वाल्मीकिनगर के वाल्मीकि व्याघ्र परियोजना (VTR)  के वन क्षेत्र में निजी वाहनों के प्रवेश पर रोक लगा दी गई है। साथ ही मंदिर...

सजायाफ्ता कैदी की इलाज दौरान हुई मौत

बेतिया। जिले के  मंडल कारा (JAIL) के एक सजायाफ्ता कैदी की सोमवार को इलाज के दौरान मौत (DEATH) हो गई। वह दुष्कर्म के एक...

एसबीआई बैंक का स्टाफ कोरोना पॉजिटिव

बेतिया। बेतिया (BETTIAH) से दस किलो मीटर दूर नौतन एसबीआई (SBI) के एकाउन्टेन्ट नौलेश कुमार के पोजिटिव रिपोर्ट सोमवार को आने के बाद बैक...

बेतिया के जीएमसीएच में युवती की मौत पर हंगामा

बेतिया। गवर्नमेंट मेडिकल कॉलेज अस्पताल (GMCH) के फिमेल मेडिसिन वार्ड में शिवानी कुमारी (16) की मौत सोमवार की सुबह हो गयी। परिजनों ने चिकित्सक...

Covid-19 Update

India
1,264,544
Total active cases
Updated on April 13, 2021 12:42 am