यूपी में नाव दुर्घटना में लापता आठ और शव मिले, अब तक यमुना नदी से 11 शव बरामद

बांदा (उप्र)। जनपद के मरका थाना क्षेत्र में गुरुवार को हुए नाव दुर्घटना में लापता लोगों की तलाशी लगातार बचाव दल द्वारा जारी है।

photo b_226

 

इस हादसे में शुक्रवार को एनडीआरएफ और एसडीआरएफ की कुल छह टीमें यमुना नदी में स्टीमर और नाव के जरिए युद्ध स्तर पर जुटी रही, लेकिन एक भी शव बरामद नहीं हुआ था।

 

वही, देर शाम नदी के उस पार फतेहपुर जनपद के किशनपुर थाना क्षेत्र में यमुना नदी में आधा दर्जन शव उतराते हुए मिले। ग्रामीणों की सूचना पर पुलिस ने पहुंचकर शवों को बरामद कर लिए हैं।

 

इस बीच इसी इलाके में दो और शनिवार को बरामद होने की सूचना मिली है जिससे अब तक लापता लोगों में 11 लोगों के शव बरामद हो चुके हैं।

 

अभी भी एनडीआरएफ और एसटीआरएफ की टीम यमुना नदी में शवों को खोजने में जुटी हैं। पुलिस के मुताबिक नाव में घटना के वक्त 32 लोग सवार थे, जबकि स्थानीय लोगों की माने तो इससे काफी अधिक लोग नाव में सवार थे।

 

उल्लेखनीय है कि, गुरुवार को लगभग 50 सवारियों से भरी नाव तेज हवाओं के चलते मरका थाना क्षेत्र में यमुना नदी में पलट गई थी।

 

इनमें से 15 लोगों को बचा लिया गया था जबकि लगभग दो दर्जन लोग लापता बताए जा रहे हैं। इनमें से 3 लोगों के शव घटना के कुछ घंटे बाद बरामद हो गए थे।

 

अब फतेहपुर के किशनपुर थाना क्षेत्र में नरौली किशनपुर और मझिगवां के घाटों के आसपास आधा दर्जन शव देर शाम बरामद हुए हैं। शनिवार को भी 2 शव इसी यमुना नदी के इलाके से मिलने की सूचना है। इस तरह लापता लोगों के 11 शव अब तक बरामद हो चुके हैं।

 

ग्रामीणों के मुताबिक आज फतेहपुर की सीमा के किशनपुर में जाल डाल कर प्रशासन ने शवों की खोजबीन शुरू कराई तो आठ डेड बॉडी हाथ लगी हैं।

 

किशनपुर पुलिस ने गोताखोरों की मदद से रेस्क्यू ऑपरेशन चला रखा है। एक युवक की पहचान हो गई है जो जयचंद पुत्र प्रेमचंद निवासी मैकुवापुर थाना अशोथर का रहने वाला है। बाकी शवों की शिनाख्त करने में जिला प्रशासन बांदा जनपद के सहयोग से आगे की कार्रवाई कर रहा है।

 

मरका गांव निवासी माया (40) व उसका पुत्र महेंद्र (2), गौरी ताला (मरका) गांव की उजिरिया (40), असोथर गांव निवासी करन (15), फुलुवा (48) व मुन्ना (36), फतेहगंज गांव निवासी जयचंद्र (19), समगरा गांव निवासी रामकरन (45), सरजो का डेरा (मरका) निवासी प्रीति (20), फतेहपुर के लक्ष्मणपुर गांव निवासी राजू (25), मुड़वारा गांव की गीता (36), कुमेढ़ा गांव की सीमा (40), निभौर गांव निवासी सीता व बाबू आदि शामिल हैं।

 

इस बारे में पुलिस अधीक्षक अभिनंदन ने बताया कि अब तक कुल 11 शव बरामद हो चुके हैं। नाव में कुल 32 लोग सवार थे। इनमें से 17 लोगों को पहले बचा लिया गया था।

 

तीन लोगों की डेड बॉडी उसी दिन बरामद हो गई थी। आठ लोगों के शव आज किशनपुर थाना क्षेत्र में बरामद की गई है।

 

इस तरह अब कुल लापता लोगों की संख्या चार है, जिनकी तलाश के लिए एनडीआरएफ और एसडीआरएफ की टीम फतेहपुर के दादौंघाट में सर्च ऑपरेशन में लगी है।

 

एसपी के कहना कि यमुना नदी का बहाव दादौंघाट घाट में डाउन है। यहीं पर आज आठ लोगों के शवों को बरामद किया गया है।

 

इसीलिए इस क्षेत्र में एसडीआरएफ और एनडीआरएफ के अलावा लोकल पुलिस, जल पुलिस और गोताखोरों की मदद से शवों को खोजने में युद्ध स्तर पर अभियान चलाया जा रहा है। जल्दी ही शेष चार लोगों की लाशें बरामद हो जाएंगी।

About The Author

Post Comment

Comments

राशिफल

Live Cricket

Download Android App

Recent News

किशोर न्याय बोर्ड में अफरा –तफरी, न्यायाधीश एवं अधिवक्ता के बीच तू-तू मै-मै किशोर न्याय बोर्ड में अफरा –तफरी, न्यायाधीश एवं अधिवक्ता के बीच तू-तू मै-मै
घटना के वक्त दो दर्जन से अधिक अधिवक्ता एवं आम लोग कोर्ट में उपस्थित थे, जब मोतिहारी बार के एक...
खुलासा: मोतिहारी में लड़की से पहले बनाया संबंध, शादी का दबाव बनाने लगी, तो चाकू मारकर कर दी हत्या
आदमखोर बाघ का फिर हमला, खेत में काम कर रही पत्नी से छीन ले गया उसका पति
सोनाक्षी सिन्हा और हुमा कुरैशी की फिल्म डबल एक्सएल का टीजर जारी
बारिश का कहर, दीवार गिरने से सात मासूम सहित दस की मौत
बिग ब्रेकिंग: मोतिहारी में एचडीएफसी के सीएसपी में लूट, सीसीटीवी में कैद हुई अपराधियों की तस्वीर
प्रीति राय और आस्था का देवी भक्ति गीत ' आंसूआ के धार' रिलीज

Epaper

मौसम

NEW DELHI WEATHER