तीन फुट के योगेंद्र और पूजा फिर करेंगे शादी

तीन फुट के योगेंद्र और पूजा फिर करेंगे शादी

Reported By BORDER NEWS MIRROR
Updated By BORDER NEWS MIRROR
On
सात माह पूर्व उसकी शादी हुई थी. योगेंद्र की शादी उसी के कद काठी की लड़की से हो गई. जिसे लोग खुदा का अजूबा ही मान रहे थे

WhatsApp Image 2023-06-02 at 1.44.33 PM

योगेंद्र और पूजा की अनोखी जोड़ी एक बार फिर अचानक चर्चा में है. अपने छोटे कद काठी की वजह से योगेंद्र अपने गांव-समाज में लोगो के लिए कौतूहल का विषय बना रहता आया है. योगेंद्र अचानक फिर से सुर्खियों में तब आ गया. जब सात माह पूर्व उसकी शादी हुई थी. योगेंद्र की शादी उसी के कद काठी की लड़की से हो गई. जिसे लोग खुदा का अजूबा ही मान रहे थे.

 पूजा और योगेंद्र की अनोखी जोड़ी जहा होता है. अपने अनोखे कद काठी की वजह से लोगो के कौतूहल का विषय होता है. तीन फीट के होने के चलते योगेंद्र की शादी नही हो पा रही थी. कोई लड़की वाले उनसे अपनी बेटी की शादी को तैयार ही नही हो रहे थे. कहा जाता है कि जोड़ी ऊपर वाले बना कर भेजते है. यह बात योगेंद्र की शादी के बाद फिर से सच साबित हुई थी.

 गौरतलब है कि योगेंद्र खुद तीन फीट का है तो उनकी दुल्हनिया पूजा भी तीन फीट की ही है. ईश्वर को साक्षी मानकर शादी करने वाले योगेंद्र और पूजा सुखमय जीवन व्यतीत कर रहे है. लेकिन उस शादी से उन्हें सरकारी योजनाओं का लाभ नहीं मिल पा रहा है. जिससे उसमे अड़चने पैदा हो रही है. दरअसल, योगेंद्र और पूजा की शादी अंतर्जातीय हुई थी. इस कारण उन्हें निबंधन विभाग में शादी करनी है. यहां से शादी का प्रमाण पत्र मिलने के बाद ही उन्हें सरकारी योजनाओं के लाभ के हकदार हो सकेंगे.

Related Posts

Post Comment

Comments

राशिफल

Live Cricket

Recent News

जिला राजद अध्यक्ष ने कहा मोतिहारी का तेजस्वी मै हूँ, तुम देवा गुप्ता के यहाँ  मुकेश साहनी और तेजस्वी को क्यू जाने दिया रे ..... जिला राजद अध्यक्ष ने कहा मोतिहारी का तेजस्वी मै हूँ, तुम देवा गुप्ता के यहाँ  मुकेश साहनी और तेजस्वी को क्यू जाने दिया रे .....
औडियो वायरल हो रहा है, जिसमे वो पप्पू साहनी सहित अन्य को धमका रहे है और कह रहे है कि...
मोतिहारी लोकसभा का चुनाव प्रचार खत्म, बिगनी बोली .. राधा मोहन और राजेश मे कांटे की टक्कड़  
भाजपा राज्यसभा सांसद विवेक ठाकुर भी स्वजातिए नेताओं के निशाने पर
बिगनी मलाहीन : समझने ही नहीं देती सियासत हम को सच्चाई, कभी चेहरा नहीं मिलता, कभी दर्पन नहीं मिलत
बिगनी मलाहीन: लाशों की ढेर पर कोई घड़ियाली आँशु बहा रहा है,,,,,  
समाज के विकास व विकसित भारत के संकल्पना की पूर्ति में शिक्षकों की भूमिका अहम: डॉ अजय प्रकाश
घोड़ासाहन मे फसल सहायता राशि मे भयानक घाल-मेल

Epaper

मौसम

NEW DELHI WEATHER