मोतिहारी में शराब और शराबियों का मेला, थाना प्रभारी आरोपों के जद में

मोतिहारी में शराब और शराबियों का मेला, थाना प्रभारी आरोपों के जद में

एसपी कांतेश मिश्रा ने बनाई जांच टीम  

Reported By SAGAR SURAJ
Updated By SAGAR SURAJ
On
सुगौली थाना क्षेत्र के शिरीपुर भटवालिया मे गुरुवार को झण्डा के अवसर पर एक भव्य मेले का आयोजन किया गया था, जहां हजारों की संख्या मे लोग आस- पास के गाँव से शामिल होने आए थे | मेले मे कई तरह की खाने-पीने की दुकान तो सजी ही थी, लेकिन तकरीबन आधा दर्जन देशी और विदेशी ब्रांडों के शराब की दुकान भी सजी थी, ऐसा लगता था जैसे आज का बिहार शराबबंदी के पहले का बिहार है और लोग सामान्य रूप से शराब को खरीद रहे थे और खुलेआम सेवन भी कर रहे थे |

सागर सूरज

मोतिहारी | सुगौली के एक मेले मे विभिन्य ब्रांडों के देशी और विदेशी शराबों की तकरीबन आधा दर्जन दुकानों के वायरल फ़ोटो और विडिओ न केवल नीतीश सरकार के शराब बंदी की पोल खोलने के लिए काफी है, बल्कि सुगौली थाना प्रभारी धनंजय शर्मा के शराब माफियाओं के साथ नापाक गठजोड़ को भी प्रमाणित करता है |

ऐसे मे जब गत दिनों ही सुगौली और सुगौली से सटे प्रखंडों मे अवैध शराब का सेवन करने से तकरीबन 75 लोगों की मौत हो गई, बावजूद इसके शराब की दुकान सजा कर विक्री करना यह समझने के लिए काफी है कि स्थानीय पुलिस प्रशासन ने इन शराब विक्रेताओं को खुली छूट दे रखी है |

IMG-20230901-WA0152

उल्लेखनीय है कि सुगौली थाना क्षेत्र के शिरीपुर भटवालिया मे गुरुवार को झण्डा के अवसर पर एक भव्य मेले का आयोजन किया गया था, जहां हजारों की संख्या मे लोग आस- पास के गाँव से शामिल होने आए थे | मेले मे कई तरह की खाने-पीने की दुकान तो सजी ही थी, लेकिन तकरीबन आधा दर्जन देशी और विदेशी ब्रांडों के शराब की दुकान भी सजी थी, ऐसा लगता था जैसे आज का बिहार शराबबंदी के पहले का बिहार है और लोग सामान्य रूप से शराब को खरीद रहे थे और खुलेआम सेवन भी कर रहे थे |

जाहीर है इतनी भीड़ वाली मेले मे मजिस्ट्रैट और पुलिस बाल की नियुक्ति हुई होगी और सबके सामने किस तरह शराब की विक्री हो रही है | तस्वीरों मे देखिए कोई शराब बेच रहा है तो कोई शराब खरीद रहा है | बाकी दुकानों से शराब की दुकानों पर ज्यादा भीड़ दिख रही है |

 

सवाल है ऐसी स्थिति मे बिना पुलिस की मर्जी के तो ऐसी दु:साहस कोई कर नहीं सकता, वैसे भी सुगौली के थाना प्रभारी धनंजय शर्मा का विवादों से पुराना रिस्ता है | प्राथमिकी दर्ज करने को लेकर रुपये की वसूली जैसे आरोप तो लगते ही रहे है | थाना प्रभारी इतने अड़ियल है कि बिहार पुलिस मुख्यालय के आदेश के बाद भी बिगोइया गाँव के संजीव मिश्रा की प्राथमिकी दर्ज नहीं की गई जबकि एक पक्ष की प्राथमिकी दर्ज कर ली गई | संजीव मिश्रा का मामला अकेला नहीं है ऐसे बहुत लोग है जिनको प्रभारी के ऊपर ढेरों आरोप है |

इधर चंपारण रेंज पुलिस उप- महानिरीक्षक जयकान्त ने कहा कि मामले की जांच कर कार्रवाई की जाएगी |  वही थाना प्रभारी धनंजय शर्मा ने कहा कि शराब बेचने वालों मे दो की पहचान हो गई है जिसमे एक शराब कारोबारी धर्मेन्द्र कुमार को गिरफ्तार कर लिया गया है |

इधर एसपी कांतेश मिश्रा ने भी मामले मे जांच टीम गठित की है |   

       

 

 
 
 
 

Post Comment

Comments

राशिफल

Live Cricket

Recent News

Epaper

मौसम

NEW DELHI WEATHER