previous arrow
next arrow
Slider
Spread the love
Home State Bihar मजदूरों का जत्था ट्रक से पहुंचा सुुुपौल

मजदूरों का जत्था ट्रक से पहुंचा सुुुपौल

Spread the love
सुपौल। देश भर में लॉक डाउन के बाबजूद रविवार की देर शाम दिल्ली से 30 मजदूरों का जत्था सुपौल पहुंचा। बताया गया कि ये सभी मजदूर दिल्ली से चलकर यूपी बॉर्डर तक पैदल पहुंचे थे, जिसके बाद ये सभी यूपी से बस पकड़कर दरभंगा तक आये, फिर एक ट्रक से किसी तरह सुपौल पहुंचे। जिला प्रशासन को जब इसकी जानकारी मिली तो सभी को आगे जाने से रोक दिया गया। बीडीओ राहुल राज ने बताया कि  सभी की जांच की जाएगी जिसके बाद कोरेनटाइन के लिए किसी स्कूल में रखा जाएगा। मजदूरों ने बताया कि वे सभी सुपौल सदर थाना के बसबिट्टी औऱ हरदी के रहने वाले हैंं। रास्ते में भी जांच की गयी है लेकिन सबसे अहम सवाल ये है कि लॉक डाउन में इतनी सख्ती के बाद भी इतनी संख्या में मजदूर दिल्ली से सुपौल कैसे पहुंच गए। फिलहाल जिला प्रशासन  सभी को एक जगह रखकर जांच कराने की प्रक्रिया में जुट गयी है। 
 सोशल डिस्टेंस का नहीं किया गया पालन : दिल्ली से कई परेशानियों को झेलते हुए मजदूर जब अपने घर पहुंचे तो पहले इन मजदूरों को घर जाने से प्रशासन ने रोक दिया। इसके बाद इन मजदूरों को भेड़ -बकरी की तरह एक ट्रक पर बैठाकर आश्रय स्थल पहुंचाया गया। 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

नीतिराज मोटर्स में ऑल न्यू सफारी की ग्रैंड लॉन्चिंग

मोतिहारी। भारत के प्रमुख ऑटोमोटिव ब्रांड टाटा मोटर्स ने अपनी प्रीमियम फ्‍लैगशिप एसयूवी ऑल न्‍यू सफारी को मोतिहारी के अधिकृत विक्रेता नीतिराज मोटर्स प्राइवेट...

बाल दुर्व्यापार के खिलाफ पूर्णियां में पहली बार हुई जनसंवाद

पूर्णिया। नोबेल शांति पुरस्कार विजेता कैलाश सत्यार्थी द्वारा स्थापित संस्था कैलाश सत्यार्थी चिल्ड्रेन फाउंडेशन के तत्वावधान में आज बाल श्रम उन्मूलन के अंतराष्ट्रीय वर्ष...

विधायक राघवेन्द्र प्रताप सिंह ने श्री राम मंदिर निर्माण के लिए एक लाख रुपये का दिया अंशदान

आरा। भारतीय जनता पार्टी के बड़हरा विधायक और बिहार सरकार के पूर्व मंत्री राघवेन्द्र प्रताप सिंह ने श्री राम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र को अयोध्या...

सीपीआई ने प्रधानमंत्री का पूतला फूँका

दरभंगा। पेट्रोल, डीजल, रसोई गैस आदि के दामों में बेतहाशा मूल्य वृद्धि, किराना सामानों के बढ़ रहे दाम, तीनों कृषि विरोधी काला कानून के...

Recent Comments