आजादी के अमृत महोत्सव में ''जिज्ञासा'' में शामिल होकर जीतें दस लाख की छात्रवृत्ति

बेगूसराय । स्वतंत्रता का 75 वर्ष पूरा होने पर प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी नेतृत्व में भारत आजादी का अमृत महोत्सव मना रहा है प्रधानमंत्री के भव्य दृष्टिकोण को आगे बढ़ाते हुए इंडियन ऑयल कॉर्पोरेशन ने पेट्रोलियम और प्राकृतिक गैस मंत्रालय तथा संस्कृति मंत्रालय के सहयोग से जिज्ञासा : आजादी का अमृत महोत्सव (एकेएएम) क्विज लॉन्च किया है। इसके लिए पंजीकरण प्रक्रिया www.akamquiz.com पर शुरू है।

22dl_m_21_22052022_1

इसमें सफल 13 से 18 वर्ष आयु के छात्रों के लिए 55 लाख रुपये की छात्रवृत्ति जीतने का मौका है तथा जिज्ञासा ट्रॉफी के शीर्ष दो विजेताओं को दस-दस लाख रुपये की छात्रवृत्ति मिलेगी। इंडियन ऑयल का बरौनी रिफाइनरी अधिक से अधिक लोगों को इस क्वीज में शामिल होने के लिए जागरूक कर रहा है। वरिष्ठ हिन्दी अधिकारी शरद कुमार ने बताया कि ''जिज्ञासा'' प्रौद्योगिकी, नवाचार और समावेशी शिक्षा के माध्यम से जागरूकता पैदा करने और ज्ञान की परंपरा को आगे बढ़ाने की दिशा में एक कदम है।

जिज्ञासा भारत द्वारा आयोजित अब तक की सबसे बड़ी प्रश्नोत्तरी, भारत की सभ्यता के इतिहास के फव्वारे से पीती है। हालांकि, भारतीयता की विकासवादी प्रकृति के लिए सच है, यह अत्याधुनिक तकनीक पर आधारित है, जो कृत्रिम बुद्धि और मशीन सीखने द्वारा समर्थित है। जिज्ञासा की प्रमुख प्रेरणाओं में से एक पीएम नरेन्द्र मोदी की अंत्योदय के प्रति प्रतिबद्धता से ली गई है तथा जिज्ञासा वास्तव में प्रकृति में समावेशी है। जिज्ञासा में दुनिया के किसी भी हिस्से से कोई भी भाग ले सकता है।

आजादी का अमृत महोत्सव प्रश्नोत्तरी में 13-18 वर्ष आयु के वैसे लोग जो औपचारिक शिक्षा प्रणाली का हिस्सा नहीं हैं, वे भी जिज्ञासा में भाग लेने के पात्र हैं। जिज्ञासा में 17 भाषाओं में शामिल हो सकते हैं तथा दो करोड़ युवा वयस्कों की अपेक्षित पहुंच के साथ जिज्ञासा ने भारत के 742 जिलों यानी पूरे भारत में भारतीयता के विचार और आदर्शों पर बातचीत शुरू करने का वादा किया है। 13 से 18 वर्ष के आयु वर्ग के लोगों के लिए जिज्ञासा, उन्हें जिला विजेताओं के रूप में अर्हता प्राप्त करने का अवसर प्रदान करती है जो बाद में राज्य, क्षेत्रीय और राष्ट्रीय स्तर पर जाते हैं।

प्रत्येक दौर के लिए अर्हता प्राप्त करने वाले कई प्रतिभागियों को उस इकाई (जिला, राज्य या क्षेत्र) से आधार भागीदारी से जोड़ा जाएगा। दिव्यांग जन और अंतर्राष्ट्रीय प्रतिभागियों की एक टीम ग्रैंड फिनाले के लिए क्वालीफाई करेगी तथा ग्रैंड फिनाले के लिए क्वालीफाई करने वाली सभी टीमें छात्रवृत्ति के लिए पात्र होंगी।जबकि, दो विजेताओं को दस-दस लाख रुपये की छात्रवृत्ति दी जाएगी। इसमें ऑनलाइन और ऑफलाइन प्री-क्वालिफायर और डिस्ट्रिक्ट राउंड होगा। ऑनलाइन डिजिटल क्विज रूम में खेला जाएगा, जबकि स्टेट राउंड, क्षेत्रीय और अंतिम दौर देश के चार महानगरों तथा नई दिल्ली में ऑफलाइन आयोजित किए जाएंगे।

Tags:

About The Author

Post Comment

Comments

Download Android App

Latest News

पूर्व सांसद सरफराज आलम पर जानलेवा हमला, दो चक्र गोली फायरिंग का आरोप पूर्व सांसद सरफराज आलम पर जानलेवा हमला, दो चक्र गोली फायरिंग का आरोप
अररिया। पटना से अररिया लौटने के क्रम में पूर्व सांसद एवं राजद नेता सरफराज आलम पर जानलेवा हमला किया गया।नरपतगंज...
90 करोड़ के मादक पदार्थों की तस्करी में फरार चल रहा आरोपित बिहार से गिरफ्तार
बिग ब्रेकिंग: मोतिहारी में ट्रक व बस में हुई जोरदार टक्कर, बाल-बाल बचे 40 यात्री, जयपुर जा रही थी बस
बिहार में मंदिर में चढ़ावे के रूपए बंटवारे को लेकर पुजारियों का दो गुट आपस में भिड़ा, खूब चले लाठी-डंडे
बिहार में नदियां उफान पर, गंडक, कोसी, बागमती का जलस्तर खतरे के निशान से ऊपर
एजबेस्टन टेस्ट: क्रिकेट के दिग्गजों ने पंत की बल्लेबाजी को सराहा
बिहार में पूर्वी चंपारण सहित कई जिलों में दो दिन भारी बारिश का अलर्ट

मौसम

NEW DELHI WEATHER

राशिफल

Live Cricket