महाराष्ट्र: एकनाथ शिंदे ने ऑटो रिक्शा चालक से मुख्यमंत्री तक का तय किया सफर

मुंबई। सातारा जिले से महाराष्ट्र का तीसरा मुख्यमंत्री बनने पर एकनाथ शिंदे की कर्मभूमि ठाणे जिले में उनके समर्थकों ने फटाखे फोड़कर खुशी जताई है। ऑटो रिक्शा चालक से मुख्यमंत्री तक का सफर तय करने वाले शिंदे पिछले दिनों से देश के सबसे चर्चित नाम हैं। उनके मुख्यमंत्री बनने पर राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी के अध्यक्ष शरद पवार ने कहा है कि वे महाराष्ट्र को विकास की राह पर ले जाने में सफल होंगे।

shinde_243

शरद पवार ने कहा कि एकनाथ शिंदे के रूप में सातारा जिले को फिर से मुख्यमंत्री पद मिला है। इससे पहले यशवंत राव चव्हाण, पृथ्वीराज चव्हाण इस जिले से राज्य के मुख्यमंत्री पद तक पहुंचे हैं। इन नेताओं की तरह ही एकनाथ शिंदे समाज के हर वर्ग को साथ लेकर सूबे के गरीब, शोषित लोगों की आवाज बनेंगे और उनके लिए बेहतर काम करेंगे।

इस बीच एकनाथ को राज्यपाल की ओर से सरकार बनाने की घोषणा की जानकारी मिलते ही शिंदे गुट के विधायकों में खुशी की लहर फैल गई।

एकनाथ शिंदे मूल रूप से सातारा जिले के हैं और ठाणे जिले में रहते हैं और यही उनकी कर्मभूमि है। इसलिए ठाणे जिले में उनके समर्थकों ने फटाखे फोड़कर उनका स्वागत किया है।

शिवसेना में बगावत के बाद अब उन्होंने भाजपा के समर्थन से सरकार बनाई है। कम उम्र में ही वे ठाणे आ गए और 11वीं तक की शिक्षा मंगला हाई स्कूल और जूनियर कॉलेज से पूरी की। इसके बाद उन्हें शिक्षा छोड़नी पड़ी और अपने परिवार के जीवन-यापन के लिए ऑटो चलाना शुरू कर दिया।

एकनाथ शिंदे की शादी लता शिंदे से हुई है। उनके बेटे डॉ. श्रीकांत शिंदे आर्थोपेडिक सर्जन हैं। वे कल्याण निर्वाचन क्षेत्र से लोकसभा सांसद हैं।

राजनीति में शामिल होने के बाद शिंदे ठाणे-पालघर क्षेत्र में प्रमुख शिवसेना नेता के रूप में उभरे और जनहित के मुद्दों के प्रति आक्रामक दृष्टिकोण के लिए जाने जाते हैं। शिवसेना ने उन्हें 1997 में पार्षद के रूप में ठाणे नगर निगम (टीएमसी) का चुनाव लड़ने का अवसर दिया, जिसमें उन्होंने भारी बहुमत से जीत हासिल की।

2001 में वह ठाणे नगर निगम में सदन के नेता के रूप में चुने गए। वह 2004 तक इस पद पर बने रहे। ठाणे नगर निगम में सदन के नेता के रूप में उन्होंने खुद को ठाणे नगर निगम या शहर से संबंधित मुद्दों तक ही सीमित नहीं रखा, बल्कि समग्र विकास और पूरे जिले के कल्याण में सक्रिय रुचि ली।

महाराष्ट्र के सातारा जिले में 9 फरवरी 1964 को जन्मे एकनाथ शिंदे कोपरी-पचपाखड़ी विधानसभा निर्वाचन क्षेत्र से विधायक हैं। वह 2004, 2009, 2014 और 2019 में लगातार 4 बार विधायक निर्वाचित हुए हैं।

2014 के चुनावों के बाद उन्हें शिवसेना के विधायक दल के नेता और बाद में महाराष्ट्र विधानसभा में विपक्ष के नेता के रूप में चुना गया। एकनाथ संभाजी शिंदे उद्धव सरकार में पीडब्ल्यूडी कैबिनेट मंत्री थे। उन्होंने जनवरी 2019 में स्वास्थ्य और परिवार कल्याण मंत्रालय की अतिरिक्त जिम्मेदारी संभाली।

About The Author

Post Comment

Comments

राशिफल

Live Cricket

Download Android App

Recent News

'वंदे मातरम' शब्द नहीं आजादी का मंत्र है, भारत फिर से बनेगा अखंड : गिरिराज सिंह    'वंदे मातरम' शब्द नहीं आजादी का मंत्र है, भारत फिर से बनेगा अखंड : गिरिराज सिंह  
बेगूसराय। आजादी के अमृत महोत्सव में केंद्रीय ग्रामीण विकास एवं पंचायती राज मंत्री गिरिराज सिंह ने रविवार को बेगूसराय में...
पेशी के लिए लाए गए सजायाफ्ता आनंद मोहन पहुंच गए घर, विरोधी दलों ने उठाएं सवाल
पूर्व क्रिकेटर रॉस टेलर का बड़ा खुलासा- राजस्थान रॉयल्स के मालिक ने उन्हें मारा था थप्पड़
नीतीश-तेजस्वी सरकार में सभी पार्टियों के लिए मंत्री पद की संख्या हुई तय, 16 अगस्त को लेंगे शपथ
तृणमूल सांसद ने सीबीआई व ईडी दफ्तर को सील करने की दी धमकी, वीडियो वायरल
स्वतंत्रता दिवस स्पेशल: देशभक्ति के जज्बे को सलाम करती फिल्में
मोतिहारी में छात्र का अपहरण, 20 लाख रूपए मांगी फिरौती

Epaper

मौसम

NEW DELHI WEATHER